Friday, September 9, 2011

अब न

अब न करो वक्त से ये जुस्तजू,
बैठे रहने दो पहलू में, न करो गुफ्तगू,


.

No comments:

Post a Comment