Monday, September 26, 2011

आफरीन आफताब

आफरीन आफताब की रौशनी,
से रौशन एक पारी आज दिखी,
क्या हुस्न था, क्या हसीना थी,
पर वो किसी और के साथ दिखी,


.

No comments:

Post a Comment