Tuesday, September 20, 2011

इम्दियादे हकीकत

इम्दियादे हकीकत तुझे क्या बताऊँ,
क्या दिल है क्या जान है,
एक बार तू भी देख ले,
क्या दिल है, क्या जान है,


.

No comments:

Post a Comment