Wednesday, September 14, 2011

तुझे मह्ताबों

तब तुझे मह्ताबों से, महकता ये जहाँ दिखाई न देगा,
जब टूट जाएगा दिल तेरा, तुझसे कोई बेवफाई कर लेगा,

.



No comments:

Post a Comment