Thursday, September 29, 2011

हकीकत-ए-वक्त

हकीकत-ए-वक्त से कुछ वक्त निकाल लेता हूँ,
कुछ इधर से निकाल लेता हूँ, कुछ उधर से निकाल लेता हूँ,
माजरा-ए-आलम वक्त गुजार कर लेता हूँ,
कुछ इधर गुज़ार लेता हूँ, कुछ उधर गुज़ार लेता हूँ,


.

No comments:

Post a Comment