Friday, September 9, 2011

गम तो

गम तो शायद,
फ़ना न हो सका,
हम फ़ना हो गए,
वो सब कह सका,


.

No comments:

Post a Comment