Tuesday, October 4, 2011

इश्क एक

इश्क एक जानिब,
आशिक को नमूना बना देता है,
नाम उनका हो जाता है,
आशिक पुकारता जो रहता है,

 .






No comments:

Post a Comment