Saturday, October 8, 2011

मेरी साँसों

मेरी साँसों की लडियां तुम बिन अधूरी हैं,
तुम चले आयो,
मेरी बाहों की कड़ियाँ तुम बिन अधूरी हैं,
तुम चले आओ,


.

No comments:

Post a Comment