Friday, October 7, 2011

कुछ तो लोग - 1



डॉ. निधि वर्मा - कृतिका कामरा

.
ये बेचैनी है किसलिए,
जरा नैन से नैन तो मिलाओ,
नज़र दूर है किसलिए,
ज़रा चेहरा तो उठाओ,

.

No comments:

Post a Comment