Tuesday, October 4, 2011

किस्मत-ए

किस्मत-ए-जहान में,
किस-किस से मिला देता है,
जिनसे न मिलने की उम्मीद हो,
उनसे भी मिला देती है,

.

No comments:

Post a Comment