Monday, August 22, 2011

आज़माइश जब

आज़माइश जब भी करोगे तो पछताओगे,
अभी तो खरा उतरेगा पर बाद में पछताओगे,


.

No comments:

Post a Comment