Friday, August 26, 2011

ओह तो

ओह तो तुम ये हो,
बड़ी खूबसूरत हो,
दहकती आग हो,
महकता गुलाब हो,

.

No comments:

Post a Comment