Friday, August 26, 2011

गम जदा

गम जदा होकर,
जिन्दगी भर,
खुशियाँ बटोरता रहा,
वक्त जब आया,
तकलीफों से निजात पाने का,
उनसे अपनी रूह को रोशन करता रहा,


.

No comments:

Post a Comment