Wednesday, August 24, 2011

ऐसे तो

ऐसे तो ऐतबार करें किस पर,
धोखा बहुत खाए हैं,
शक अब हो जाता है सब पर,
मौका बहुत गवाएँ हैं,

.



No comments:

Post a Comment