Thursday, August 25, 2011

तुमसे बिछड़कर

तुमसे बिछड़कर, जिन्दगी को जीना, अजीब-सा लगता है |
जिन्दगी का हर कोना, खाली-खाली सुनसान-सा लगता है |
 .

No comments:

Post a Comment