Monday, August 29, 2011

तेरी चाहत

तेरी चाहत का उसे क्या पता,
अपनी चाहत का भरोसा था,
टूट गया उसका दिल |
जब उसे तुने छोड़ा था |

.

No comments:

Post a Comment