Monday, August 29, 2011

क्या अदा


क्या अदा है, मेरी जान, तुझ पर फब्ती है,
तेरी जुल्फों में, तेरी आखों में वो मस्ती है,
 
.


No comments:

Post a Comment