Saturday, August 20, 2011

कुछ यादें

कुछ यादें अपनी,
दूसरों को न देंगे,
उन्हें रोज़ याद करके,
जिन्दगी यूँ जी लेंगे,


.

No comments:

Post a Comment