Thursday, July 7, 2011

हम गम

हम गम से दूर थे, ग़मगीन हो गए कैसे |
हम नम से दूर थे, नमकीन हो गए कैसे |
हम कम से दूर थे, कमहीन हो गए कैसे |
हम दम से दूर थे, दमहीन हो गए कैसे |

No comments:

Post a Comment