Saturday, July 30, 2011

सरे बाज़ार

सरे बाज़ार हुश्न को बेपर्दा कर चलोगी |
मजमा लग जाएगा, महफ़िल सजेगी |

.

No comments:

Post a Comment