Thursday, July 28, 2011

सताया नहीं

हुश्न को यूँ छुपाया नहीं जाता |
रूह को यूँ जलाया नहीं जाता |
दिल को यूँ रुलाया नहीं जाता |
किसी को यूँ सताया नहीं जाता |


.

No comments:

Post a Comment