Thursday, July 28, 2011

प्यार करने

हुश्न न गरीब था |
आशिक न अमीर था |
दुनिया का यह शगल पुराना था |
हर प्यार करने वाले को बताना था |

.

No comments:

Post a Comment