Friday, July 29, 2011

अब बेबसी

बस अब बेबसी थी, उसके दिल में न हंसी थी |
रो वो न सकी थी, उसकी आखों में नमीं थी |


.

No comments:

Post a Comment