Wednesday, July 6, 2011

है दूर निगाहें

है दूर निगाहें, है दूर समां |
फिर भी तू, दिल में समां |

No comments:

Post a Comment