Friday, July 8, 2011

वक्त गुजार

वक्त गुजार दिया, उसी के इंतज़ार में |
वो आये मिले भी न, मिले किसी के प्यार में |

No comments:

Post a Comment