Friday, July 8, 2011

खुश हुए

खुश हुए सब, खुशवार हुआ समाँ |
यह है किस्मत से बंधा हुआ समाँ |

No comments:

Post a Comment