Sunday, November 27, 2011

इश्क की रौशनी

इश्क की रौशनी, राह दिखाती जाती,
जिस्म हल्का हो जाता, हवा में उडती जाती,


.

No comments:

Post a Comment