Friday, November 4, 2011

चंद्रमुखी चौटाला

चंद्रमुखी चौटाला

हर हायनेश शहजादी-ए-फेकबुक पिंकी प्रिंसेस को शहजादा-ए-मण्डोर पप्पू परिहार का सलाम,

पिंकी प्रिंसेस क्या नाम चुना है, लगा गया चंद्रमुखी पर चाँद कई गुना है,
हमें तो शुरू से ही अंदेशा हुआ है, आप शहजादी हो आज खुलाशा हुआ है,

आपकी अकड़ शहजादियों से कतई कम नहीं हैं,
आपकी पकड़ शहजादियों से कतई कम नहीं हैं,
चाँद जैसे मुख वाली कोई शहजादी ही हो सकती है,
शहजादी में ही तो इतनी अकड़-पकड़ हो सकती है,

चैटिंग से सेटिंग आप करा रहे हो,
फेक खाता फेकबुक में बना रहे हो,
चलो आप भी एक नए नाम से आ रहे हो,
फेकबुक पर असली पहचान छुपा रहे हो,

हमने तो आपको पहले दिन ही पहचान लिया था,
जब आपके अंदाज़ से अंदाजा जो लगा लिया था,
आप शहजादी हो यह जान लिया था,
आपने काबू में जो सबको कर लिया था,

राजकुमार का सफ़ेद जूता है हर फिल्म में पहले निकलता,
यूँ आपके जूता निकालने की अदा से अंदाजा यह निकलता,
वो राजकुमार हैं, तो आप राजकुमारी हैं,
आपकी यह अदा है लगे सबको प्यारी है,

पहले शो में आपकी वो आँखें, आपका नूर-ए-चेहरा,
शहजादी हो आप, आपके चेहरे का टपकता नूर कह रहा,

आपकी वो चाल, आपका वो अंदाज़,
शहजादी हो आप, सामने आ गया आज,

वो आपका डंडा, अभी न हुआ ठंडा,
अब तो लात घूसे बजते हैं, कभी-कभी डंडे भी लगते हैं,

हर किसी को डर लगता है, आपसे,
हर कोई दिल ही दिल में प्यार करता है, आपसे,
कह नहीं पाता कोई आपसे,
डर जो जाता है हर कोई, आपसे,

अब तो कोई शहजादा ही आएगा,
आपकी आँख से आँख मिलाएगा,
दिल में आपके उतर जाएगा,
आपके साथ दिल में बैठ जाएगा,

शहजादा ही तो शहजादी को पायेगा,
ऐरा-गैरा नत्थू खैरा कहाँ टिक पायेगा,
आपके निगाहों से जो टकराएगा,
चूर-चूर वो तो पहले ही हो जाएगा,

शहजादियों के नखरे, शहजादियों की समझ,
आपमें पहले दिन ही देख ली थी,
शहजादियों की चमक, शहजादियों की दमक,
आपमें पहले दिन ही देख ली थी,

पहले ही दिन से छा गए आप,
सबके दिल में समां गए आप,
हँसते-हँसाते जिन्दगी से रूबरू करा गए आप,
हंसी-हंसी में, बहुत कुछ सिखा गए आप,

अब तो आपको देखकर ही सोते हैं,
कितने भी थकें हो, हंसकर लोट-पोट होते हैं,
थकान छूमंतर हो जाती है,
वो भी आपको देख कर मुस्कुराती हैं,

.

No comments:

Post a Comment