Tuesday, January 25, 2011

ये जगह

ये जगह,
इतनी,
खुबसूरत न थी,
जितनी,
तुम्हारे,
आने से हो गई,

तुम्हारी,
खूबसूरती,
इस पर,
छा गई,
जिससे तुम,
दिल में,
समा गई,

चाहे,
मुलाकात,
हो की,
ना हो,
पर ख्यालों में,
तुम ही,
छा गई,

इसी तरह,
तुम्हे,
निहारते हुए,
तुम हमें,
भा गई,

.

No comments:

Post a Comment